राष्ट्रीय

राजस्थान की तरफ बढ़ा ‘बिपारजॉय’, गुजरात में भारी बारिश के आसार

आज पूरे गुजरात में भारी बारिश भी हो सकती है

Cyclone Biparjoy  गुजरात के स्वास्थ्य मंत्री ऋषिकेश पटेल ने बताया कि किसी भी प्रकार की जनहानि की सूचना नहीं मिली है। किसी पशु की भी मृत्यु नहीं हुई है। पेड़ गिरने की सूचना मिली है। कच्छ में करीब 5-6 बजे तक परिस्थिति अच्छी होने लगेगी। आज पूरे गुजरात में तेज हवाएं और भारी बारिश भी हो सकती है। राजस्थान में भी बारिश हो सकती है।

शाम तक चक्रवात और कमजोर हो जाएगा: मोहंती

मनोरमा मोहंती (वैज्ञानिक, IMD) ने बताया कि बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान रात 10:30-11:30 बजे के बीच तट को पार कर चुका है। अभी ये गंभीर चक्रवाती तूफान में परिवर्तित हुआ है। आज दोपहर तक चक्रवात के और कमजोर होकर चक्रवाती तूफान होने की संभावना है, शाम तक यह और कमजोर हो जाएगा। अभी पूरे गुजरात में बारिश होगी।

सड़क पर गिरे पेड़ों को हटाने का अभियान जारी

गुजरात में चक्रवाती तूफान ‘बिपरजॉय’ का प्रभाव देखने को मिल रहा है। NDRF के जवानों ने कच्छ के लखपत में सड़क पर गिरे पेड़ों को हटाने का अभियान चलाया।

23 लोग घायल हुए, 24 पशुओं की मौत

NDRF की ओर से बताया गया कि गुजरात में ‘बिपरजॉय’ की वजह से 23 लोग घायल हुए और 24 पशुओं की मौत हो गई। चक्रवात के आने से पहले दो लोगों की जान चली गई थी।

गुजरात: तेज हवा चल रही

कच्छ में Cyclone Biparjoy का प्रभाव देखने को मिल रहा है। शहर में तेज हवा चल रही है। चक्रवात के प्रभाव से पेड़ उखड़ गए। द्वारका में भी चक्रवात बिपरजॉय का प्रभाव देखने को मिल रहा है।

मौसम विभाग के अनुसार, बेहद खतरनाक चक्रवाती तूफान बिपरजॉय देर रात ढाई बजे नलिया से 30 किमी उत्तर में सौराष्ट्र-कच्छ क्षेत्र पर केंद्रित था। आज इसके उत्तर-पूर्व में बढ़ने की संभावना है। वहीं, तूफान की थोड़ी धीमी गति हो सकती है। हालांकि, शाम तक राजस्थान की ओर बढ़ जाने की उम्मीद है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि टकराने के बाद बेहद खतरनाक चक्रवात बिपरजॉय अब खतरनाक ही रह गया है। महापात्र ने बताया कि चक्रवात अब समुद्र से जमीन की ओर बढ़ गया है और सौराष्ट्र-कच्छ की ओर केंद्रित है। चक्रवात की तीव्रता घटकर 105-115 किमी प्रति घंटा हो गई है।

आईएमडी निदेशक डॉक्टर मृत्युंजय महापात्र ने कहा कि चक्रवात बिपरजॉय उत्तर पूर्व की ओर बढ़ गया है। अभी जखाऊ बंदरगाह, गुजरात के करीब पाकिस्तान तट से सटे सौराष्ट्र-कच्छ को पार किया। चक्रवात अब समुद्र से जमीन की ओर बढ़ गया है और सौराष्ट्र-कच्छ की ओर केंद्रित है। चक्रवाती तूफान प्रचंड गंभीर चक्रवाती तूफान की श्रेणी में बदल गया है। 16 जून यानी आज शाम को चक्रवाती तूफान अपना रास्ता बदलेगा।

गुजरात के आयुक्त आलोक पांडे ने बताया था कि तूफान के कारण करीब 22 लोग घायल हो गए हैं। अभी तक किसी के मरने की खबर नहीं है। 23 पशुओं की मौत हो गई है, 524 पेड़ गिर गए हैं और कुछ जगहों पर बिजली के खंभे भी गिर गए हैं, जिससे 940 गांवों में बिजली नहीं है।

Cyclone Biparjoy Update: राजस्थान की ओर बढ़ा ‘बिपरजॉय, गुजरात में भारी बारिश के आसार; शाम तक कमजोर होगा तूफान

अरब सागर में 10 दिनों तक छाए रहने के बाद चक्रवात ‘बिपरजॉय’ ने गुजरात के कच्छ जिले में जखाऊ बंदरगाह से टकरा गया। चक्रवात के कारण कच्छ और सौराष्ट्र तटों के आसपास तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई। तेज बारिश के बीच भावनगर में उफनते नाले में फंसी बकरियों को बचाते समय एक व्यक्ति और उसके बेटे की मौत हो गई। अब तक 22 लोगों के घायल होने की खबरें हैं। वहीं, अब बताया जा रहा है कि खतरनाक चक्रवात दूसरे राज्य में अपना कहर दिखाने के लिए तैयार है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button